Animation एक प्रकार का अर्थ और डिजाइन फॉर्मेट है। जिसका उपयोग कंप्यूटर में drawing तथा अन्य प्रकार के art के लिए किया जाता है। Animation का नाम कंप्यूटर टेक्नोलॉजी में काफी लोकप्रिय है। क्योंकि यह नाम drawing सीखने वालों के लिए जाना पहचाना नाम है। आज के समय में drawing सीखना हर कोई चाहता है और drawing सिखकर कई प्रकार के लोगो डिजाइन का काम भी आसानी से कर सकता है। एनिमेशन के जरिए हर प्रकार के लोगो डिजाइन संभव हुए हैं।एनीमेशन कोर्स क्या है , एनिमेशन के उपयोग , एनीमेशन कोर्स कितने साल का होता है , Types of animation , What is animation in computer , एनीमेशन वीडियो कैसे बनाते हैं , Animation क्या है
एनिमेशन के उपयोग , एनीमेशन कोर्स कितने साल का होता है , Types of animation , What is animation in computer , एनीमेशन वीडियो कैसे बनाते हैं , Animation क्या है
आपने यूट्यूब पर कई प्रकार के कार्टून के चैनल देखे होंगे यह सभी कार्टून का डिजाइन एनिमेशन के जरिए ही होता है। एनिमेशन और ग्राफिक्स के इस्तेमाल से इस प्रकार के कार्टून को बनाकर कंपलेक्स चीजों को और अधिक रोमांचक बनाया जाता है। कंप्यूटर स्क्रीन में कई बार आप कलरफुल लेटर को देखते हैं। इस प्रकार के कलर फुल लेटर को अलग तरीके से डिजाइन करने के लिए भी एनिमेशन का उपयोग किया जाता है। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से एनीमेशन क्या है इसके बारे में बात करेंगे।

Animation क्या है:-  एनिमेशन एक प्रकार की प्रक्रिया है जिसके अंतर्गत डिजाइनिंग,drawing,लेआउट बनाना तथा फोटोग्राफिक्स के लिए इसका मुख्य उपयोग किया जाता है। एनिमेशन की प्रिपरेशन करना मुख्य है। जिसके बाद आप कई प्रकार की मल्टीमीडिया या किसी गेम प्रोडक्ट में इंटीग्रेटेड कर सकते हैं। इसके मुख्य प्रिंसिपल की बात करें तो, एनिमेशन के माध्यम से हर प्रकार की इमेज के लेआउट को कस्टमाइज कर सकते हैं और उसे मैनेज कर सकते हैं। जिससे इसके मूवमेंट होने का illunion पैदा हैं।

एनिमेशन एक प्रकार का Art और विज्ञान है। यह एक नई प्रकार की आठ प्रक्रिया है। जिस को कंप्यूटर के लिए बहुत ज्यादा उपयोग किया जाता है। कंप्यूटर में कई प्रकार के ग्राफिक,logo और कार्टून बनाने के लिए उपयोग किया जाता है। एनिमेशन टेक्निकल इनोवेशन से प्रेम प्रोजेक्टर पर आधारित है। एनिमेशन टेक्नोलॉजी के आने के पश्चात कंप्यूटर में कई प्रकार के ग्राफिक्स कार्य को करने में मदद मिली है।

एनिमेशन के प्रकार:-  एनिमेशन एक प्रकार की प्रक्रिया है। जिसे कंप्यूटर में अलग-अलग कार्यों जैसे:-ग्राफिक्स,पिक्चर एडिटिंग इत्यादि के लिए किया जाता है। एनिमेशन के कई प्रकार होते हैं,जो नीचे निम्न रूप से दिए गए हैं।
1.Cel Animation
2.Stop Animation
3.Motion animation
4.Computer Animation

कंप्यूटर एनीमेशन को दो भागों में बांटा गया है। कंप्यूटर एनीमेशन 3D एनिमेशन और 2D एनिमेशन दो रूप से विभाजित है। जिनका उपयोग अलग-अलग प्रकार के ग्राफिक्स डिजाइन करने के लिए किए जाते हैं।

एनीमेशन कोर्स क्या है:-  जो व्यक्ति एनिमेशन का कोर्स एक जाता है। वह आसानी से कई क्षेत्रों में जॉब प्राप्त कर सकता है। एनिमेशन सीखने के पश्चात व्यक्ति को बेहतरीन skill का कार्य मिल जाता है और अच्छी सैलरी भी मिल जाती है। एनिमेशन कोर्स को सीखने वाले छात्रों को एनीमेशन सॉफ्टवेयर के साथ परिचित करवाया जाता है और उसके पश्चात एलिवेशन के डिजाइन को किस प्रकार से बनाया जाता है। उस सुविधा का भी जिक्र करवाया जाता है। इसके अलावा एनिमेशन उन्हें मार्केट trend के हिसाब से शिक्षित करने में मदद दिलाते हैं। एनिमेशन का कोर्स करने के पश्चात इस फील्ड में जॉब आसानी से मिल जाती हैं।

Animation Course कितने प्रकार के होते हैं:-  एनिमेशन कोर्स सीखने के लिए आपके सामने दो रास्ते उपलब्ध होंगे। मतलब यह है,कि एनिमेशन कोर्स दो प्रकार का होता है। आप किसी एक कोर्स को करके एनिमेशन फील्ड में जो प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा भी कई प्रकार के एनिमेशन कोर्स होते हैं। लेकिन अधिकारिक तौर पर मुख्य दो एनिमेशन कोर्स उपलब्ध है।

1) Animation Degree Course:-  जो व्यक्ति एनिमेशन डिग्री कोर्स करना चाहता है। उसे इस कोर्स के लिए एडमिशन लेना होगा। एडमिशन के लिए विद्यार्थी के पास 12वीं कक्षा उत्तीर्ण का सर्टिफिकेट होना अनिवार्य है और 12वीं कक्षा में 45% से ज्यादा अंक होने जरूरी है। उसके पश्चात ही विद्यार्थी इस कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है। जब विद्यार्थी एनिमेशन डिग्री कोर्स को चुनता है। तो उसके सामने कई सारे ऑप्शन मिलते हैं। वह अपनी चॉइस के हिसाब से एक ऑप्शन को सेलेक्ट करके कॉलेज में एडमिशन ले सकता है।

2) Animation Diploma Course:- जो विद्यार्थी एनिमेशन डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन लेना चाहते हैं। उनके लिए भी कुछ मापदंड रखे गए हैं। विद्यार्थी को डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन लेने के लिए दसवीं कक्षा उत्तीर्ण की मार्कशीट जमा करवानी होगी। इतना ही नहीं दसवीं कक्षा में 45% से ज्यादा अंक आने भी जरूरी है। उसके पश्चात विद्यार्थी एनिमेशन डिप्लोमा कोर्स में अपना आवेदन लगा सकता है